हील इन इंडिया योजना 2022 [Heal in India yojana] Registration

हील इन इंडिया योजना 2022 (लाभ, लाभार्थी, आवेदन फॉर्म, रजिस्ट्रेशन, अप्लाई, पात्रता, सूची, स्टेटस, दस्तावेज, ऑनलाइन पोर्टल, आधारिक वेबसाइट, टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर, आखरी तारीख ) Heal in India yojana (Benefits, beneficiaries, application form, registration, eligibility criteria, list, status, official website, portal, documents, helpline number, last date, how to apply)

केंद्र सरकार द्वारा लगातार देश में स्वास्थ्य सेक्टर में महत्वपूर्ण सुधार किए जा रहे हैं और यही वजह है कि विदेशी लोग भी भारत में सस्ती कीमतों पर अपना इलाज करवाने के लिए आ रहे हैं। अभी तक भारत में अधिकतर लोग पाकिस्तान, बांग्लादेश और नेपाल जैसे देशों से अपना इलाज करवाने के लिए आते थे। हालांकि भारतीय सरकार को बड़ी मात्रा में इस बात की इंक्वायरी मिली कि कई अन्य देशों के लोग भी भारत में अपना इलाज करवाने के आना चाहते हैं।

ऐसे में भारतीय सरकार ने कुल 44 देशों की पहचान की जहां पर ऐसे पेशेंट की संख्या अधिक है जो अपना इलाज भारत में आकर के करवाना चाहते हैं। इसलिए सरकार के द्वारा उन 44 देशों को ध्यान में रखते हुए हिल इन इंडिया योजना की शुरुआत की गई है। आइए इस आर्टिकल में जानते हैं कि “हिल इन इंडिया योजना क्या है” और “हील इन इंडिया योजना में आवेदन कैसे करें।”

Heal in India Portal

हील इन इंडिया योजना 2022 Heal in India yojana

योजना का नाम:हील इन इंडिया योजना
साल:2022
किसने घोषणा की:प्रधानमंत्री मोदी जी
लाभार्थी:चिन्हित 44 देशों के लोग
उद्देश्य:विभिन्न सुविधा एयरपोर्ट पर उपलब्ध करवाना
आधिकारिक वेबसाइट:N/A
हेल्पलाइन नंबर:N/A

प्रधानमंत्री मोदी जी के द्वारा इस योजना को भारत देश में लागू करने की घोषणा की गई है। इस योजना के अंतर्गत सरकार के द्वारा भारत के 10 हवाई अड्डे पर दुभाषी और स्पेशल डेस्क स्थापित की जाएगी साथ ही एक मल्टी लैंग्वेज पोर्टल भी स्थापित किया जाएगा। सरकार के द्वारा इस योजना को आसान वीजा मानदंड चिकित्सा पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए शुरू किया जा रहा है।

योजना के अंतर्गत दूसरे देशों से भारत में इलाज कराने के लिए आने वाले लोगों को आसानी देने के लिए भारत का स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय काम पर लगा हुआ है। प्राप्त जानकारियों के अनुसार भारतीय सरकार के द्वारा ऐसे टोटल 44 देशो की पहचान की गई है जहां से बड़ी संख्या में लोग मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए भारत देश आते हैं। उन देशों में मुख्य तौर पर लैटिन अमेरिकी, अफ्रीकी, सार्क में शामिल देश और खाड़ी देश शामिल हैं।

भारतीय सरकार के द्वारा भारत के 10 चिन्हित हवाई अड्डे दिल्ली एयरपोर्ट, मुंबई एयरपोर्ट, चेन्नई एयरपोर्ट,बेंगलुरु एयरपोर्ट, कोलकाता एयरपोर्ट, विशाखापट्टनम एयरपोर्ट, कोची एयरपोर्ट, हैदराबाद एयरपोर्ट, और अहमदाबाद एयरपोर्ट और गुवाहाटी एयरपोर्ट पर उन 44 देशों के मरीज अधिक संख्या में उतरते हैं। इसलिए सरकार इन 10 एयरपोर्ट पर विशेष तौर पर फोकस करेगी।

हील इन इंडिया योजना का उद्देश्य

इस योजना के उद्देश्य