Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

पीएम किसान सम्मान निधि योजना 2019 लिस्ट कैसे चेक करे ?

 

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना क्या हैं ?(पीएम-किसान 2019-20) आवेदन फॉर्म कैसे भरे ? पीडीएफ़ डाउनलोड, ऑनलाइन पोर्टल, टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर, लिस्ट कैसे देखें, पात्रता नियम, दस्तावेज़ सूची, अमाउंट, स्टेटस, अंतिम तिथि [PM- KISAN Scheme In Hindi]

केंद्र सरकार द्वारा किसानों के लिए बहुत सी योजनाएं चलाई जा रही है।  इस वर्ष सभी राज्यों में कर्ज माफी जैसी योजनाएं चलाई गई, अनुमान था कि भारत सरकार भी इसी तरह की कोई योजना का विमोचन करेगी परंतु भारत सरकार ने किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करने हेतु एक योजना का विमोचन किया जिसका नाम प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना है।  इस योजना के जरिए भारत सरकार देश के किसानों को खेती में सहायता देने के लिए धन राशि सीधे बैंक खाते में जमा करवाएगी। योजना का लाभ किसानों को कैसे प्राप्त होगा, जानकारी पढ़ने के लिए इस आर्टिकल को विस्तार से पढ़ें –

PM Kisan Samman Nidhi Yojana

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की पूरी जानकारी –

प्रचलित नामपीएम किसान योजना
पूरा नाम                  प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना
घोषणाअन्तरिम बजट 2019
घोषणा की गईपीयूष गोयल ने
लाभार्थीदेश के किसान
मंत्रालयकृषि एवं किसान कल्याण विभाग
हेल्पलाइन नंबर011-23381092, 011-23382012
लास्ट डेट 
पोर्टलpmkisan.gov.in
अमाउंट6000 रूपए 

पीएम किसान योजना का मुख्य उद्देश्य क्या हैं ?

किसानों को प्रति वर्ष खरीफ एवं रबी की फसलों के दौरान खेतों में विभिन्न कार्य करवाने के लिए राशि की जरूरत होती है और इसी कारण किसान कर्ज लेता है और कर्ज ना लौटा पाने की सूरत में आत्महत्या जैसे संगीन जुर्म को करता है । इस तरह के कार्य को रोकने के लिए और किसानों की आय को दोगुना करने के उद्देश्य से सरकार द्वारा आर्थिक सहयोग जैसी योजनाओं को चलाया जा रहा है, इस तरह की योजना विभिन्न प्रदेशों में भी राज्य स्तर पर चलाई जा रही है। उन्ही में पीएम किसान योजना केंद्र द्वारा देश के सभी राज्यो के लिए शुरू की गई हैं ।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लाभ क्या हैं ?

आर्थिक लाभ – योजना के अंतर्गत आने वाले किसानों को 6000 रुपये प्रति वर्ष उनके बैंक खाते में सरकार द्वारा जमा किए जाएंगे संभव है आने वाले वर्षों में राशि को बढ़ाया जा सकेगा ।

विभिन्न चरण, किश्त एवं अंतराल – यह राशि किसानों के खाते में विभिन्न चरणों में पहुंचाई जाएगी 6000 रुपये के आवंटन के लिए तीन किस्तों का निर्धारण किया गया है प्रति किश्त में 2000 रुपये किसान के खाते में जमा किए जाएंगे जिसके लिए चार महीने का अंतराल रखा जाएगा।

डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर सुविधा – पैसा किसानों के हाथों में धनराशि के रूप  में अथवा चेक के माध्यम से ना देकर सीधे किसानों के खाते में जमा किया जाएगा  यह सुविधा डीबीटी ट्रांसफर के अंतर्गत प्रदान की जाएगी जिससे धोखाधड़ी जालसाजी आदि को रोका जा सके और सीधे किसान को इसका फायदा मिले।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना के अंतर्गत पात्रता नियम क्या हैं ?

 इस योजना का लाभ भारत में रहने वाला कोई भी किसान ले सकता है।  पहले इस योजना के अंतर्गत भूमि संबंधी आंकड़े निर्धारित किए गए थे, परंतु अब यह योजना सभी किसानों के लिए शुरू कर दी गई है लेकिन इनमें कई तरह के किसान शामिल नहीं हो सकते,  वह किसान कौन से होंगे इसके बारे में आगे विस्तार से पढ़ें

प्रधानमंत्री किसान योजना में कौन से किसान लाभ नहीं ले सकते ?

राजनैतिक पदाधिकारी – वह किसान जो पूर्व  अथवा वर्तमान में किसी भी राजनीतिक पद पर रहे हैं, वे इस योजना के अंतर्गत शामिल नहीं हो सकते ।

 सरकारी नौकर – ऐसे कर्मचारी जो  सरकारी कार्यालय में कार्यरत हैं, वह भी इस योजना का लाभ नहीं ले सकते भले ही उनके पास उनकी खुद की जमीन  हो ।

पेंशन धारी – वे किसान जिन्हें 10000 रुपये से अधिक मासिक पेंशन सरकार की तरफ से मिलती है, वह भी इस योजना का लाभ नहीं ले सकते ।

करदाता – किसान जो आयकर जमा करते हैं, वे भी इस योजना के अंतर्गत शामिल नहीं हो सकते ।

 अन्य समृद्धि शाली किसान – वे किसान जो कि पेशे से डॉक्टर, इंजीनियर, वकील, आर्किटेक्ट अथवा सीए हैं, वे भी इस योजना के अंतर्गत शामिल नहीं हो सकते ।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत लगने वाले दस्तावेज कौन-कौन से हैं ?

किसी भी तरह की योजना का लाभ लेने के लिए यह जरूरी है कि लाभार्थी अपनी योग्यता के बिंदुओं को सत्यापित करने वाले सभी दस्तावेजों को फॉर्म के साथ संलग्न करें। इस योजना के तहत भी कई महत्वपूर्ण दस्तावेज अनिवार्य है जैसे

 खसरा खतौनी की कॉपी – योजना के लिए जरूरी है कि किसान  भूमि का मालिक हो इस बिंदु को सत्य साबित करने के लिए किसान के पास अपने जमीन के कागज होना जरूरी है, अतः किसान को खसरा खतौनी की मुख्य कॉपी फॉर्म के साथ संलग्न करना जरूरी है

 आधार कार्ड – आज के समय में आधार कार्ड एक महत्वपूर्ण परिचय पत्र माना जा रहा है।  इस योजना का लाभ लेने के लिए भी आधार कार्ड की कॉपी फॉर्म के साथ जमा करना जरूरी है ।

 बैंक पासबुक की कॉपी – योजना के अंतर्गत पैसा किसानों के खाते में जमा किया जाएगा, अतः बैंक संबंधी जानकारी देना भी अनिवार्य है । इस हेतु किसान अपने बैंक पासबुक के पहले पन्ने की फोटो कॉपी को फॉर्म के साथ जमा कर सकता है । इसके अलावा आईएफ़सी कोड देना भी जरूरी हैं ।

 मोबाइल नंबर – अपना मोबाइल नंबर भी देना जरूरी है क्योंकि योजना से संबंधित सारी जानकारी मोबाइल नंबर पर शासन द्वारा भेज दी जाएगी, एवं मोबाइल नंबर का किसान के खाते से लिंक होना भी अनिवार्य हैं ।

 पीएम किसान योजना का आवेदन फॉर्म कैसे प्राप्त होगा ?

 पीएम किसान योजना के लिए पंजीयन कराने हेतु ऑनलाइन एवं ऑफलाइन दोनों सुविधा सरकार द्वारा शुरू की गई है इस तरह दोनों  ही तरीकों से योजना का फॉर्म प्राप्त किया जा सकता है।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लिए ऑनलाइन फॉर्म कैसे भरें ? (How to apply Online Form for Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana ?)

  1. आधिकारिक पोर्टल –

    यदि आप पीएम किसान योजना का फायदा लेने की सोच रहे हैं और इसके लिए योग्य किसान हैं तो आपको प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि पोर्टल के माध्यम इसमें अप्लाई करना होगा. साथ ही इसमें आपको खुद को रजिस्टर्ड भी करना होगा.

  2. न्यू रजिस्ट्रेशन –

    इसके लिए आप ‘फार्मर कॉर्नर’ विकल्प पर क्लिक करें जोकि आपको अधिकारिक पोर्टल पर ऊपर की ओर कॉर्नर में लिखा हुआ दिखाई देगा. फिर आप ‘न्यू फार्मर रजिस्ट्रेशन’ पर क्लिक करके इसमें रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं.

  3. इंटर आधार कार्ड नंबर –

    इसके बाद आपके सामने जो पेज आयेगा उसमें आपसे आधार कार्ड नंबर और कैप्चा कोड इंटर करने के लिए कहा जायेगा. इस प्रक्रिया को पूरी करने के बाद आपको सबमिट बटन कर क्लिक करने की जरुरत होगी.

  4. योग्य किसान आवेदन करें –

    यदि आपका आधार कार्ड पहले से ही रजिस्टर्ड हैं तो आपको एक सन्देश प्राप्त होगा जिसमें यह लिखा हुआ होगा कि आपका नाम इस योजना के लिए पहले से ही जुड़ा हुआ हैं. लेकिन यदि आपका नाम इसमें रजिस्टर्ड नहीं हैं तो आपको जो सन्देश प्राप्त होगा उसमे यह लिखा होगा कि आपका आधार कार्ड इस योजना में लिंक्ड नहीं हैं, इसके लिए आप अप्लाई कर सकते हैं.

  5. फॉर्म भरें –

    यह होने के बाद पीएम किसान योजना के लिए नया फॉर्म खुल जायेगा, जिसमें आपको सभी उचित जानकारी देनी होगी और उसके बाद आपको इस फॉर्म को जमा करने की जरुरत होगी.

  6. आधार कार्ड अनिवार्य –

    पीएम द्वारा शुरू की गई इस किसान योजना में ऑनलाइन अप्लाई करने पर आधार कार्ड को अनिवार्य माना गया हैं. इसलिए लाभार्थी किसान के द्वारा फॉर्म में दी गई सभी जानकारी को उसके आधार कार्ड के माध्यम से क्रॉस चेक किया जायेगा. और फिर जाकर आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जायेगा.

पीएम किसान ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया क्या हैं ?

 योजना के लिए ऑफलाइन प्रक्रिया की सुविधा भी सरकार द्वारा शुरू की गई है जिसके लिए किसान को अपने नजदीकी सीएससी सेंटर अथवा ग्राम पंचायत में जाने की जरूरत है, जहां पर वे फॉर्म प्राप्त करके उसे भरकर कार्यालय में जमा करवा सकते हैं ।  फॉर्म भरने के बाद प्रशासन द्वारा उन  दस्तावेजों की जांच पड़ताल की जाएगी अगर किसान इस योजना के लिए उपयुक्त कैंडिडेट है तो उसका नाम इस योजना में शामिल कर दिया जाएगा ।

रजिस्ट्रेशन के लिए कैंप का प्रावधान

अगर किसान ऑनलाइन अथवा ऑफलाइन दोनों ही तरीकों से अपना रजिस्ट्रेशन नहीं करवा पाता है ।  उस स्थिति में अगस्त 2019 में शासन द्वारा कैंप लगाए जाएंगे उस कैंप के जरिए भी किसान इस योजना में पंजीयन करवा सकता है ।  कैंप से संबंधित जानकारी के लिए किसान नजदीक के तहसील कार्यालय में जाकर पूछताछ कर सकता है ।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में खाते का स्टेटस कैसे देखें ? (How to View the Account Status of Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana ?)

किसानों को यह जानकर ख़ुशी होगी कि वे अब प्रधानमंत्री किसान योजना के तहत अपना ऑनलाइन स्टेटस भी चेक कर सकते हैं. अतः इससे घर बैठे किसानों को यह पता चल जायेगा कि उनके खाते में कितनी किश्त आई हैं. किसानों के लिए यह सुविधा बहुत स्पष्ट हैं. इसके लिए उन्हें निम्न चरणों के अनुसार कार्य करना होगा –

इस प्रधानमंत्री किसान योजना का स्टेटस चेक करने के लिए सर्वप्रथम आप पीएम किसान पोर्टल पर जायें. इस पोर्टल में जाने के बाद आप ‘फार्मर्स कॉर्नर’ में लाभार्थी स्टेटस का विकल्प देखेंगे. इस पर क्लिक करने के बाद आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर एक अन्य पेज प्रदर्शित होगा.

यहां किसान 3 तरीके से आधार कार्ड, अकाउंट नंबर और मोबाइल नंबर से स्टेटस की जाँच कर सकते हैं.

आप इन तीनों में से किसी भी एक जानकारी को दे सकते हैं, फिर आपको आपके स्टेटस की जानकारी प्राप्त हो जाएगी. आपको स्टेटस में पहली, दूसरी और तीसरी किश्तों के बारे में जानकारी मिलेगी.

अतः इस योजना को अधिक पारदर्शी और आसान बनाने के लिए, यह ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू की गई है. अब कोई भी किसान इस तरह से अपने पैसे के बारे में जानकारी देख सकता हैं.

प्रधानमंत्री किसान योजना में किसान सूची (लिस्ट) में नाम कैसे चेक करे ?

किसान अपना नाम चेक करने के लिये ऑनलाइन अथवा ऑफलाइन दोनों तरीके इस्तेमाल कर सकते हैं ।

ऑनलाइन तरीका

ऑनलाइन चेक करने के लिये उपर दिये गए ऑनलाइन पोर्टल पर क्लिक करके ‘फार्मर कार्नर’ विकल्प पर जाये. यहाँ बेनेफिशिरी लिस्ट का आप्शन मिलेगा, उस पर क्लिक करके न्यू पेज में आप पहुँच जायेंगें.

अब आपको अपने राज्य, जिला, उप-जिला, गाँव एवं ब्लाक की जानकारी सही सही भरनी होगी.

अंत में गेट डाटा में क्लिक करें, जिसके बाद नीचे पूरी लिस्ट खुल जाएगी. इस तरह आप अपना नाम लिस्ट में घर बैठे देख सकते है.

ऑफलाइन तरीका

ऑफलाइन नाम देखने के लिये आपको ग्राम पंचायत या सीएससी सेंटर पर जाना होगा क्यूंकि सरकार द्वारा बनाई गई लाभार्थी की सूची इन स्थानो पर दी गई हैं । यहाँ जाकर किसान अपना नाम चेक कर सकता हैं ।

FAQ’s

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत कितने हेक्टेयर जमीन का मालिक लाभ ले सकता है ?

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत भूमि संबंधी कोई भी पात्रता बिंदु नहीं है । भारत का कोई भी किसान इस योजना के अंतर्गत शामिल हो सकता है।

अगर पीएम किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत कोई व्यक्ति गलत जानकारी भरकर योजना का लाभ ले रहा है तो उनका क्या होगा ?

 योजना के अंतर्गत सभी दस्तावेजों की  सत्यता की परख अधिकारियों द्वारा की जाएगी, अगर पेपर में कोई गलती पाई गई तो इसका भुगतान सरकार करेगी और  जो लोग यह गुनाह कर रहे थे उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाएगी ।

अगर भूमि के मालिक की मृत्यु हो जाती है और कागजों में उसके वारिस का नाम जोड़ा जाता है तो क्या उसे इस योजना के अंदर शामिल किया जाएगा

 हां, इसके लिए मालिक का मृत्यु प्रमाण पत्र एवं संबंधित दस्तावेजों का होना जरूरी है।

पीएम किसान योजना के अंतर्गत लाभार्थियों की पात्रता के निर्धारण के लिए अंतिम तिथि क्या तय की गई है

 पात्रता के निर्धारण के लिए अंतिम तिथि 1 फरवरी 2019 तय की गई है इसके बाद भूमि के कागजों में होने वाले  परिवर्तन जैसे भूमि खरीदना एवं बेचने के बाद भूमि के कागजों में मालिकाना हक का बदलना आदि को इस योजना के अंतर्गत अगले 5 वर्षों तक कोई लाभ प्राप्त नहीं होगा ।  परंतु अगर भूमि के मालिक की मृत्यु हो जाती है तो उस केस में उसके  वारिस का नाम कागजों में दाखिल होने के कारण कागजो में होने वाले बदलाव के कारण भी  उसे इस योजना के अंतर्गत शामिल किया जा सकता है ।

क्या पीएम किसान योजना के अंतर्गत टैक्स देने वाले किसान लाभ ले सकते हैं ?

नहीं

क्या किसी भी तरह का जमीन मालिक इस योजना का लाभ ले सकता है ?

 नहीं केवल  उसी भूमि के मालिक को यह लाभ प्राप्त होगा जिस पर कृषि संबंधी कार्य किए जाते हैं।

अन्य कार्य के लिए खरीदी गई जमीनके मालिक को पीएम किसान योजना का लाभ मिल सकता है ?

 नहीं, केवल खेती करने वाले किसान को भी इस योजना का लाभ मिल सकता है।

क्या कोई व्यक्ति जिसके नाम कोई भी भूमि का टुकड़ा नहीं है, वह इस योजना का लाभ ले सकते हैं ?

 नहीं, केवल कृषि योग्य भूमि के मालिक ही इस योजना का लाभ ले सकते हैं 

क्या पीएम किसान योजना के अंतर्गत बैंक संबंधी सभी जानकारी देना अनिवार्य है?

 जी हां,  इस योजना के अंतर्गत डीबीटी फैसिलिटी के अनुसार पैसा जमा करवाया जाएगा जिसके लिए सरकार के पास बैंक संबंधी सारी जानकारी होना जरूरी है जोकि ट्रांजैक्शन में मदद करती है । 

अन्य पढ़े – 

  1. PM Laghu Vyapari Mandhan Yojana 2019
  2. PM Kisan Pension Yojana 
  3. YSR Aarogyasri Scheme Andhra Pradesh 
  4. Bangla Shashya Bima Scheme West Bengal 
 Posted by at 6:25 am